सीडीएस अनिल चौहान का जीवन परिचय (भारत के नए सीडीएस) CDS Anil Chauhan Biography in Hindi

सीडीएस अनिल चौहान का जीवन परिचय (भारत के नए सीडीएस) CDS Anil Chauhan Biography in Hindi

सीडीएस अनिल सिंह चौहान की जीवनी, जन्म स्थान, जन्म तारीख, माता – पिता, पत्नी, बच्चे, शिक्षा, जाति, यूनिट, वेतन, राष्ट्रीय पुरस्कार, आर्मी करियर, नए सीडीएस कौन है अनिल सिंह चौहान (CDS Anil Singh Chauhan BIography in Hindi, indian army new cds anil chauhan, army, education, lieutenant general, anil chauhan latest news, date of birth, place, age, father, mother, wife, children, school, religion, caste, college, nationality, height, award, profession, post, salary)

आज के इस लेख में हम आपको भारत के नए सीडीएस अनिल चौहान के बारे में बात करने वाले है तो आईए जानते है उनकी जीवन के बारे भारत के नए सीडीएस अनिल चौहान लेफ्टिनेंट ने आर्मी में लगभग 40 सालों तक भारत मां की रक्षा की है। 40 साल नोकरी करने के बाद इनको 2021 में रिटायरमेंट दी गई थी। अनिल चौहान ने अपने करियर समय में कई महत्वपूर्ण पदों को भाखुभी संभाला है और इन्होंने उतर पूर्व भारत और जम्मू कश्मीर में आतंकवाद विरोधी अभियान में मुख्य तौर पर उनका हिस्सा बने थे। यही वजह है शायद इनको भारत का नया सीडीएस (CDS) बनाया गया है। तो आइए जानते है अनिल चौहान की जीवनी विस्तार से।

सीडीएस अनिल सिंह चौहान का जीवन परिचय | CDS Anil Singh Chauhan Biography in Hindi

new cds anil chouhan

नाम:  अनिल चौहान
पद : इंडियन आर्मी सीडीएस (New CDS)
जन्म:  18 मई 1961
जन्म स्थान:  उत्तराखंड
उम्र: 61 साल
पत्नी : अनुपमा
बच्चे : प्रज्ञा चौंहन
शिक्षा:  स्नातक
स्कूल:  राष्ट्रीय रक्षा अकादमी , खडकवासला
कॉलेज: भारतीय सैन्य अकादमी , देहरादून
धर्म:  हिन्दू
राष्ट्रीयता: भारतीय
जाति : राजपूत
कद: 5 फीट 8 इंच
सर्विस :  आर्मी ऑफिसर
पेशा: आर्मी ऑफिसर
पद:  फोर स्टार जनरल (28 सितम्बर 2022 )
आदेश: पूर्वी कमान III कोर
यूनिट: 11वीं गोरखा राइफल्स
कार्यकाल: 500,000/माह + भत्ता
वेतन: 500,000/माह + भत्ता

 

सीडीएस अनिल चौहान का जीवन परिचय (CDS Anil Chauhan Biography in Hindi)

आर्मी में 40 साल सेवाएं देने वाले उत्तराखंड की धरती से तालुक रखने वाले अनिल चौहान को भारतीय रक्षा मंत्रालय द्वारा भारत का नया सीडीएस नियुक्त किया गया है। लेफ्टिनेंट अनिल चौहान उत्तराखंड के राजपूत परिवार से संबंध रखते हैं। इनका जन्म 18 मई 1961 को उत्तराखंड के पौड़ी जिले में हुआ था। अनिल चौहान को अपने करियर में कई प्रकार के अवार्ड रक्षा मंत्रालय और भारत सरकार के द्वारा नवाजा गया है। एक साल पहले ही 2021 में इनको आर्मी से रिटायरमेंट दी गई थी।

अनिल चौहान की शिक्षा (CDS Anil Chauhan Education)

अनिल चौहान की पढ़ाई इंडियन सैन्य अकैडमी, नेशनल डिफेंस अकैडमी में हुई है और इन्होंने पश्चिम बंगाल के कोलकाता में सेंट्रल स्कूल फोर्ट विलियम में Participate भी लिया था। और इन्होंने देहरादून के कॉलेज से ग्रेजुएशन की पढ़ाई भी की हुई है।

अनिल चौहान की फैमिली (CDS Anil Chauhan Family)

अनिल चौहान के परिवार में उनकी पत्नी और एक उनकी लड़की है। उनकी पत्नी का नाम अनुपमा चौहान है जो एक कलाकार है। अनिल चौहान की बेटी का नाम प्रज्ञा चौहान है। अनिल चौहान के बारे में सोशल मीडिया पर ज्यादा जानकारी ना होने के कारण हम आपको बस इतनी ही जानकारी अपको बता सकते है।

करियर (CDS Anil Chauhan Career)

आर्मी की सेवा करते – करते इन्हे 2018 में युद्ध सेवा पदक से नवाजा गया। और 2020 में परम विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया गया था। इनके अलावा अनिल चौहान को सेना पदक और विशिष्ट सेवा पदक भी दिया गया है। अनिल चौहान ने मेजर जनरल के पद पर रहते हुए भी जम्मू कश्मीर के बारामुला सेक्टर में इन्फेंट्री डिविजन (Infentory Devision) भी संभाल चुके है। इसके बाद इन्होंने लेफ्टिनेंट जनरल के पद पर रहकर भी काम किया है। और इन्होंने अंगोला में यूनाइटेड स्टेट मिशन में भी अपनी भूमिका में निभाई है। सितंबर 2019 को इनको जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ (General Officer Commanding-in-Chief) बनाया गया था। और मई 2021 को अनिल चौहान को आर्मी से रिटायरमेंट कर दिया गया था।

पुरस्कार (CDS Anil Chauhan Awards)

अनिल चौहान को दिए गए पुरस्कार की सूची –

सेना मैडल।

परम विशिष्ट सेवा मैडल।

उत्तम युद्ध सेवा मैडल।

अति विशिष्ट सेवा मैडल।

विशिष्ट सेवा मैडल।

ऑपरेशन पराक्रम मैडल

सैन्य सेवा मैडल

30 इयर्स लॉन्ग सर्विस मैडल

नए सीडीएस अनिल चौहान (India’s New CDS Anil Chauhan]

अनिल चौहान आर्मी से रिटायर होने के बावजूद भी यही चाहते थे कि वो और देश की सेवा करे। और उन्हें ये अवसर प्राप्त भी हो गया है। यही कारण था की उन्होंने राजनीतिक मामले और नेशनल डिफेंस में पूरा सहयोग देते रहे। इसी साल जून में भारत सरकार ने सीडीएस की पोस्टिंग के लिए नियमों में बदलाव किया गया था। इस संशोधन के मुताबिक 62 साल की उम्र से कम की उम्र का कोई भी पोस्टेड लेफ्टिनेंट जनरल हो या रिटायर हो गया हो या वाइस मार्शल, वाइस एडमिरल या फिर एयर मार्शल भी सीडीएस की पोस्ट पाने का हकदार होगा।

हमारे पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत की हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मृत्यु हो जाने के बाद से ही भारत के सीडीएस का पद काफी लम्बे वक्त तक खाली रहा है। लेकिन काफी समय बाद सीडीएस के पद पर उत्तराखंड के रहने वाले ठाकुर परिवार से अनिल चौहान को भारत का नया सीडीएस घोषित किया गया है। अनिल चौहान 40 वर्ष आर्मी की सेवा करने के बाद फिर से एक बड़े पद पर रहकर देश की सेवा करने का मोका मिला है जो को उनके लिए एक गर्व की बात है

सैलरी (CDS Anil Chauhan Salary)

जब अनिल चौहान आर्मी में सेवा दे रहे थे तब उनकी एक महीने की सैलरी ₹90000 से लेकर ₹120000 के बीच में थी। आर्मी से रिटायर हो जाने के बाद अनिल चौहान को महीने में पेंशन दी जाती थी जो भी सैलरी के हिसाब से बनती थी। लेकिन अब इन्हे भारत का सीडीएस (CDS) बनाया गया। सीडीएस की सैलरी हमे तो नही पता जो भी मिलती वो अब इन्हे महीने के हिसाब से मिलती रहेगी

Leave a Comment

Skip to content