Bill Gates Biography In Hindi | बिल गेट्स का जीवन परिचय ! Net Worth ! Story 2023

Bill Gates Biography In Hindi | बिल गेट्स का जीवन परिचय। Net Worth ! Story 2023

हेल्लो दोस्तो आज में आपको दुनिया के सबसे अमीर आदमी Bill Gates Biography In Hindi में लिख रहे है। बि गेट्स दुनिया के सबसे जाने आने अमीरों में से एक है। बिल गेट्स अमेरिका के सबसे बड़े बिजनेसमैन है यह कंप्यूटर प्रोग्रामर माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर है. और इनकी माइक्रोसॉफ्ट कंपनी दुनिया की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी है. माइक्रोसॉफ्ट कंपनी की शुरुआत 1975 में बिल गेट्स के द्वारा की गई थी, जब से माइक्रोसॉफ्ट कंपनी की शुरुआत हुई है Bill Gates Biography In Hindi

तब से बिल गेट्स ने इस कंपनी में कई पद पर कार्यभार संभाला है जैसे: वे CEO, Chairman, Chief Software Architect, के पद पर कार्य कर चुके है। और बिल गेट्स का नाम पर्सनल कंप्यूटर के संसार में उथल पुथल लाने के लिए इतिहास में सुनहेरे अक्षर में लिखा गया है. बिल गेट्स दुनिया के महान उद्ययोगपतियों में से एक माने जाते है, और इन्होंने अपनी कड़ी मेहनत, निष्ठा के साथ पूरी दुनिया में अपने आप को रोशन किया। Bill Gates Biography In Hindi

बिल गेट्स दुनिया के जाने माने अमीर लोगो मे से एक है यह सिलसिला 1987 के बाद से निरन्तर चल रहा है तब से ही इनका नाम दुनिया के टॉप अमीर आदमियों की लिस्ट में बना रहा है. बिल गेट्स को सबसे पहले 1987 को दुनिया के टॉप अमीर लोगों की लिस्ट में जगह दी गई थीं. फिर 1995 से 2007 तक निरन्तर दुनिया में सबसे ज्यादा कमाई करने वाले व्यक्ति बने रहे थे. 2007 में फिर से इन्हें दुनिया के टॉप अमीर लोगो की लिस्ट में शामिल कर लिया गया. Bill Gates Biography In Hindi

जो की 2014 तक इस लिस्ट में बने रहे. और फिर अगस्त 2016 में फिर से बिल गेट्स को दुनिया के सबसे अमीर आदमियों की लिस्ट में जगह मिल गई. साल 2014 के बाद कि बात करे तो इनकी आय में 15 बिलियन (Bilion) का इजाफा हुआ है. वर्तमान की बात करे तो बिल गेट्स की आय 90 बिलियन (bilion) डॉलर पहुँच गई है Bill Gates Biography In Hindi

बिल गेट्स का जीवन परिचय ! Bill Gates Biography In Hindi ! Net Worth ! Story 2023Bill Gates Biography In Hindi

बिल गेट्स जीवन परिचय  (Bill Gates Biography In Hindi)

 जीवन परिचय

1. पूरा नाम – विलियम हेनरी गेट्स     

2. जन्म – 28 अक्टूबर, 1955     

3. जन्म स्थान – सीटल, वाशिंगटन, (अमेरिका)

4. कमाई – US$ 133.8 Billion March (2022)

5. महीने की कमाई – $350 Million+

6. माता – मैरी मैक्सवेल गेट्स  

7. पिता- विलियम एच गेट्स

8. पत्नी – मेलिंडा गेट्स

9. बहन –  क्रिस्टी गेट्स, लिब्बीगेट्स

10. बच्चे – फोवे अडले गेट्स, जेनिफर कैथरीन गेट्स, रोरी जॉन गेट्स।

बिल गेट्स का जन्म 28 अक्टूबर 1955 को सीटल, वाशिंगटन, संयुक्त राज्य अमेरिका में हुआ था। और इनके पिता जी विलियम एच गेट्स एक जाने माने वकील थे, इनकी माता जी मैरी मैक्सवेल First Interstate Bank System and United की बोर्ड्स ऑफ़ डायरेक्टर्स थी. बिल गेट्स 3 भाई बहन है जिसमे से एक बड़ी व एक छोटी बहन है. बिल सिर्फ 13 साल की उम्र में ही Computer Programming (कंप्यूटर प्रोग्रामिंग) में रुचि दिखाने लग गए थे. और धीरे-धीरे बिल टेक्नोलॉजी (Technolog) से सम्बंधित नए-नए बिजनेस स्कीम और हैरान करने वाले बिजनेस कला तैयार करने लगे।

1989 में मेलिंडा फ्रेंच नाम की लड़की से उनकी मुलाकात उन्ही की कंपनी माइक्रोसॉफ्ट में हुई थी. मेलिंडा इन्ही की कंपनी में जॉब करती थी. बिल वही से मेलिंडा को पसंद करने लग गए थे. मेलिंडा बिल से बहुत छोटी उम्र की थी. लेकिन बिल मेलिंडा को पसंद करते थे. और धीरे-धीरे दोनों एक दुसरे के करीब आते गए, और फिर 1994 में बिल ने मेलिंडा से शादी कर ली थी. और आज इनके तीन बच्चे है।

बिल गेट्स की शिक्षा (Bill Gates education)

बिल गेट्स जब 13 साल के थे तब इनका नाम सिएटल लेकसाइड स्कूल में लिखवाया गया और एक दिन बिल गेट्स के स्कूल में एक सिएटल कंप्यूटर कंपनी ने विद्यार्थियों को कंप्यूटर को सीखने और उसे समझने के लिए कंप्यूटर दिए गए. और तब से ही बिल को कंप्यूटर में रुचि होने लगी. और वे ज्यादा से ज्यादा समय कंप्यूटर पर बिताने लगे. और वे घण्टों- घण्टों कंप्टर पर बिताने लगे.समझने की कोशिस करते थे ये कंप्यूटर प्रोग्रामिंग होता क्या है।

और इसी उम्र में, इसी स्कूल के एक कंप्यूटर में बिल गेट्स ने एक बेसिक कंप्यूटर भाषा मे Tic-Tac-Tow नाम का एक सॉफ्टवेयर प्रोग्राम बनाकर डाल दिया था. और जब बिल 9वी कक्षा में पहुचे तब इन्होने अपने दोस्तों के साथ मिलकर स्कूल के पेरोल प्रणाली को कंप्यूटरीकृत बना दिया था. इस उम्र से ही आप अंदाजा लगा सकते हो बिल गेट्स का दिमाग कितना तेज था और बचपन से ही मानो इनके दिमाग में कंप्यूटर प्रोग्राम भरा पड़ा था. इसे आप God Gifts भी कह सकते है।

Lakeside School में बिल की भेंट एक Paul Allen नाम के स्टूडेंट से हुई जो उनसे सीनियर (Senior) थे. मतलब दो साल बड़ा था। और दोनों को कंप्यूटर सीखने, समझने का बहुत शौक था. दोनों के विचार बहुत मिलते जुलते थे. और इसी वजह से वे दोनों काफी अच्छे दोस्त बन चुके थे. लेकिन पॉल एलेन बहुत ही शांत, और शर्मीले स्वभाव के थे. लेकिन फिर भी ये दोनों सारा दिन Computer Programming को जानने के लिए बिता दिया करते थे.

17 साल की उम्र में स्कूल के दौरान दोनों दोस्तों ने मिलकर यातायात काउंटर के लिए Traaff-O-Data नाम का एक प्रोग्राम का निमार्ण किया था, जो कि Intel 8000 Process पर बेस था.

1973 में बिल ने अपने स्कूल की पढ़ाई पूरी कर ली थी. और बिल SAT की परीक्षा में National Scholar बने थे, उन्हें इस परीक्षा में 1600 में से 1590 अंक प्राप्त हुए  थे. स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद बिल गेट्स ने हार्वर्ड कॉलेज में एडमिशन लिया था. बिल स्कूल की तरह ही कॉलेज में भी अपना सारा समय कंप्यूटर पर ही बिताया करते थे, बिल सिर्फ Math और Science विषय मे ही ज्यादा ध्यान दिया करते थे। एक दिन बिल ने  अपने मित्र एलन ने उन्हें सलाह दी कि उन्हें कॉलेज को यहीं छोड़कर अपना खुद का बिजनेस शुरू कर देना चाहिए।

बिल गेट्स माइक्रोसॉफ्ट करियर (Bill Gates Microsoft Career Highlights) 

बिल गेट्स का ध्यान बचपन से ही कंप्यूटर की और था तो बिल और उनके दोस्त एलन ने मिलकर 1975 में माइक्रोसॉफ्ट कंपनी की शुरूआत की. इसे शुरू में माइक्रो – सॉफ्ट के नाम से जाना जाता था. बिल और एलन ने एक बेसिक (BASIC) नाम के प्रोग्राम का निमार्ण किया जो माइक्रो कंप्यूटर की प्रसिद्ध प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (Language) है. जो कि यह सफल रहा, यह सफल होंने के इन दोनों दोस्तो ने एक दुसरे सिस्टम के लिए प्रोग्रामिंग लैंग्वेज बनाने का काम शुरू कर दिया. और धीरे-धीरे माइक्रोसॉफ्ट कंपनी सफलता की और बढ़ती हुई दिखाई देने लगी. और करीब 5 साल के समय में ही माइक्रोसॉफ्ट कंपनी दुनिया में छाने लगी लगी थी।

सन 1980 में माइक्रोसॉफ्ट कंपनी को ‘इंटरनेशनल बिजनेस मशीन (IBM) से ऑफर मिला, IBM के द्वारा माइक्रोसॉफ्ट कंपनी को कहा कि वे उनके आने वाले सभी पर्सनल कंप्यूटर के लिए ‘बेसिक इंटरप्रीटर’ (Basic Interpreter) लिखें. माइक्रोसॉफ्ट कंपनी द्वारा IBM के लिए PC DOS ओपरेटिंग सिस्टम का निमार्ण किया गया. और इसके बदले IBM ने माइक्रोसॉफ्ट कंपनी को उस समय $50000 हजार डॉलर की फीस दी गयी, जो कि उस समय बहुत ज्यादा मानी जाती है।

कम समय में ही माइक्रोसॉफ्ट ओपरेटिंग सिस्टम पूरी दुनिया में मशहूर हो गई थी, और 20 नवम्बर 1985 को  माइक्रोसॉफ्ट कंपनी ने विंडोज (Windows) नाम के एक ओपरेटिंग सिस्टम को दुनिया के सामने पेश किया गया. जो कि आज बहुत फेमस बन गया है. यह ‘माइक्रोसॉफ्ट डोस (DOS) के लिए ओपरेटिंग सिस्टम शेल की तरह कार्य करता था. और कुछ सालों बाद ही विंडोज ने प्रत्येक दुनिया के निजी कंप्यूटर बाजार में पूर्ण रूप से अपना हक जमा लिया था.

निजी कंप्यूटर के 90% शेयर विंडोज के नाम पर हो गए थे. माइक्रोसॉफ्ट कंपनी ने दुनिया में बहुत ज्यादा सफलता हासिल कर ली थी. बिल गेट्स अपनी खुद की कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के सबसे बड़े शेयर होल्डर बन गए थे, जिससे बिल ने अपनी कंपनी से बहत ज्यादा फायदा हुआ. और धीरे-धीरे बिल पैसे वाले बनते चले गए. और फिर 1987 में बिल गेट्स दुनिया के सबसे अमीर आदमियों की लिस्ट में पहला स्थान प्राप्त हुआ था. बिल ने सिर्फ 11 साल के अनुभव से ही इतनी बड़ी उपलब्धि अपने नाम कर ली थी.

1989 में माइक्रोसॉफ्ट के द्वारा ‘माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस’ (Microsoft Office) का निमार्ण किया गया. यह एक पैकेज की तरह तैयार किया गया था, जिसमें ज्यादा से ज्यादा एप्लिकेशन को जगह दी गई थी, जैसे Excel, Microsoft Word ये एक साथ एक ही सिस्टम के द्वारा चल सकती थी. और साथ ही किसी भी माइक्रोसॉफ्ट प्रोडक्ट में आसानी से चल सकती थी. माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस ने दुनिया मे इतना प्रसिद्ध हुआ कि, जिसके बाद से पर्सनल कंप्यूटर पूरी दुनिया में माइक्रोसॉफ्ट के ओपरेटिंग सिस्टम का एकाधिकार बन गया था.

सन 1990 में जब इन्टरनेट पूरी दुनिया में एक भयानक तरीके से फैल रहा था. उस समय बिल गेट्स अपनी माइक्रोसॉफ्ट कंपनी में उसके विकास (Devlopment) के लिए तेजी से काम मे लगे हुए थे, ताकि वे अपने ग्राहको को इन्टरनेट के जरिये अपने सॉफ्टवेयर का समाधान (Solution) दे सकें. उस समय ‘विंडोज सी.ई ओपरेटिंग सिस्टम प्लेटफार्म’ एवं ‘दी माइक्रोसॉफ्ट नेटवर्क’ लोकप्रिय डेवलपमेंट में से एक माने जाते थे.

सन 2000 में बिल गेट्स ने अपनी माइक्रोसॉफ्ट कंपनी में सीईओ (CEO) पद से इस्तीफा दे दिया, मग़र बिल गेट्स आज भी चेयरमैन के रूप में अभी भी कार्य संभाले हुए है. सीईओ पद से इस्तीफा देने के बाद बिल ने  माइक्रोसॉफ्ट कंपनी में एक नया पद ‘चीफ सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट’ खुद के लिए बना दिया.

बिल गेट्स दिल के बहुत धनी व्यक्ति है, वे लोगो की बहुत ज्यादा मदद करते है, बहुत ज्यादा दान करते है अपनी उम्र को देखते हुए बिल ने अपने बहुत से कार्य दुसरो को सौप दिए और खुद वे परोपकारी कामो में लग गए और वहाँ पर ज्यादा से ज्यादा समय व्यतीत करने लग गए.

सन 2014 फ़रवरी को बिल ने चेयरमैन पद से भी इस्तीफा दे दिया, और तब से वे माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ “सत्या नादेला” के टेक्नोलॉजी एडवाइजर के रूप में काम करने लगे. बिल गेट्स आज भी दुनिया की अमीर लोगों की लिस्ट में शामिल है।

बिल गेट्स द्वारा दिये गए सहयोग (Contributed by Bill Gates)

बिल गेट्स ने सन 1999 मे MIT कॉलेज को कंप्यूटर लैब बनाने के लिए 20 मिलियन डॉलर दान में दिए गए. MIT कॉलेज वालो ने खुश होकर उसका नाम बिल गेट्स के सम्मान में ‘विलियम एच गेट्स बिल्डिंग’ रखा.Bill Gates Biography In Hindi

सन 2000 में अपनी धर्मपत्नी के साथ मिलकर बिल ने  ‘बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन’ (Bill And Melinda Gates Foundation) की नींव रखी गई. जो कि यह दुनिया की सबसे बड़ी प्राइवेट फाउंडेशन में से एक मानी जाती है, इस फाउंडेशन का उद्देश्य दुनिया मे फैली गरीबी को दूर करना, बीमारियों से जूझ रहे लोगो की मदद करना है।

बिल गेट्स ने सन 2010 में एक बड़ा ऐलान किया, जिसमे उन्होंने फेसबुक के फाउंडर और सीईओ मार्क जुकरबर्ग और सबसे बड़े इन्वेस्टर ‘वारेन बुफ्फेट’ के साथ मिल कर, एक अग्रीमेंट पर साइन किया, उसमे लिखा था कि बिल गेट्स अपनी आधी कमाई को गरीब लोगों में दान किया करेंगे।

बिल गेट्स ने साल 20-21 में अपने शहर वाशिंगटन के लिए 50 करोड़ रुपया देने की घोषणा की. और बिल ने कहा कि उनका फाउंडेशन दुनिया भर में जहाँ जहाँ कोरोना की दवाई और टिका बन रहा है हम उनके साथ मिलकर अपना पूरा सहयोग दे रहे है।

बिल गेट्स कोरोना माहमारी में अपने Bill And Melinda Gates Foundation दुनिया भर में कोरोना वायरस से निपटने में पूरा सहयोग दे रहा है। बिल ने 2020-21 में सोशल मीडिया के जरिये कोरोना वायरस से निपटने के लिए 100 मिलियन डॉलर (751 करोड़ रुपए) की मदद देने की घोषणा भी की थी। Bill Gates Biography In Hindi

बिल गेट्स को दिए गए अवार्ड्स (Bill Gates Awards)

सन 2002 में बिल गेट्स और उनकी पत्नी मेलिंडा को सामाजिक कार्यो के लिए ‘जेफ़र्सन अवार्ड’ प्रदान किया गया।

सन 2010 में माइक्रोसॉफ्ट में मिली बड़ी सफलता और उनके दान-पुण्य कार्य के लिए बिल को फ्रेंक्लिन इंस्टिट्यूट द्वारा ‘बोवेर अवार्ड’ प्रदान किया गया।

बिल गेट्स और उनकी पत्नी ने एक फाउंडेशन भारत में भी स्थापित किया गया है, इस फाउंडेशन के तहत ये भारत के गरीब लोगों की सेवा करते है. और इस गौरवान्वित कार्य के लिए भारत सरकारं ने बिल गेट्स और उनकी पत्नी मिलिंडा को सन 2010 में भारत के तीसरे सबसे बड़े सम्मान ‘पद्म भूषण’ से सम्मानित किया गया था।

बिल गेट्स पर बहुत सी किताबें लिखी गयी जिन्हें वर्तमान में स्कूलों में पढ़ाया जाता है. और बिल पर वीडियोस क्लिप्स, फिल्म, डॉक्यूमेंटरी आदि बन चुकी है और बिल गेट्स दुनिया के सभी युवाओं के लिए बड़े प्रेरणास्रोत (Inspiration) है।

बिल गेट्स के बारे में रोचक तथ्य (Bill Gates interesting facts in hindi) –

 ● बिल गेट्स के बचपन का नाम ‘ट्रे’ था.

● 13 साल की उम्र में पहला कंप्यूटर प्रोग्राम बनाया जिसे बिल गेट्स ने खुद लिखा था, उसका नाम ‘टिक-टैक्-टू’ गेम था.

● बिल स्कूल में हमेशा अपने दोस्तों से ये बोलते थे की वे 30 साल की उम्र में मिलेनियर बन जाएंगे. बिल सच मे ही 31 साल की उम्र में ही मिलेनियर बन चुके थे.

बिल गेट्स के पास कोई भी एजुकेशन डिग्री नहीं है.

● सन 1977 में बिल गेट्स को न्यू मैक्सिको में बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने के अपराध में गिरफ्तार कर लिया गया था.

● बिल गेट्स की Favorite बुक ‘बिजनेस ऐडवेंचर’ है. यह एक बिजनेस किताब है.

● सन 1994 में बिल गेट्स ने लियोनार्दो दा विंसी के जरिये लिखित पेजों का कलेक्शन ‘कोडेक्स लेस्टर’ (Codex Lester) को 30.8 मिलियन डॉलर में एक नीलामी के दौरान खरीद लिया था.

● बिल गेट्स को अपनी जिंदगी में एक बात का बहुत पछतावा है कि उन्हें कोई भी फोरेन लैंग्वेज बोलनी नहीं आती है.

● फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग से मुलाकात के बाद ही बिल गेट्स ने पहली बार फेसबुक में अपना अकाउंट बनाया था, इसके पहले बिल कभी भी सोशल मीडिया पर एक्टिव नहीं थे.

● अगर बिल गेट्स की माइक्रोसॉफ्ट कंपनी पूरी तरह फ़ैल हो जाती तो बिल गेट्स आज आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में एक खोजकर्ता के तौर पर काम करते हुए दिखते.

● बिल गेट्स के पास इतना ज्यादा धन होने के बाद उन्होंने अपने बच्चों से साफ कह दिया था कि तुम मेरी कमाई में से सिर्फ 10 मिलियन डॉलर के हकदार होंगे बाकी कमाई में तुम्हारा कोई हिस्सा नही होगा.

● सन 2007 में हारवर्ड यूनिवर्सिटी ने बिल गेट्स को हॉनर की डिग्री के द्वारा सम्मानित किया गया था. बिल गेट्स ने इसी यूनिवर्सिटी से 32 साल पहले अपने पढ़ाई को बीच में ही छोड़ दिया था.

● बिल गेट्स जब भी भारत यात्रा पर आते है, यहाँ के गरीबो के लिए कुछ ना कुछ अच्छा कार्य करके जाते है.

 

यह भी पढ़े:

1. स्वामी दयानंद सरस्वती का जीवन परिचय

2. छत्रपति शिवाजी महाराज का जीवन परीचय

3. महारानी विक्टोरिया का जीवन परिचय

4. डॉ ऐ.पी.जे अब्दुल कलाम का जीवन परिचय

Bill Gates Biography In Hindi

Leave a Comment

Skip to content