JavaScript क्या है (Javascript Full Form) JavaScript Kya Hai In Hindi पूरी जानकारी हिंदी में 2023

JavaScript क्या है (Javascript Full Form) JavaScript Kya Hai In Hindi पूरी जानकारी हिंदी में 2023

दोस्तो आज के इस लेख में हम बात करने वाले है JavaScript Kya Hai In Hindi, (What Is JavaScript In Hindi) जावास्क्रिप्ट क्या है  Java Script से आप क्या समझते हैं और जावा स्क्रिप्ट की विशेषताएं? Java Script के लाभ, जावास्क्रिप्ट किस प्रकार की प्रोग्रामिंग भाषा है आदि सवालों के जवाब जानेंगे आज के इस लेख में हिंदी में – JavaScript Kya Hai In Hindi

इस स्मार्ट फ़ोन और इंटरनेट के दौर में हमारे दिन की शुरुआत बिना मोबाइल के नहीं होती। हम जब भी सुबह सोकर उठते हैं तो हम सबसे पहले अपने मोबाइल फ़ोन को देखकर ही उठते हैं। ये हमारी जिंदगी का हिस्सा बन गया है और हो भी क्यों ना हम अपना सारा काम अब इसी मोबाइल फ़ोन से ही तो करते हैं। JavaScript Kya Hai In Hindi 2023

पहले सामान खरीदने के लिए हमें बाजार जाना होता था। पैसे भेजने के लिए या जमा कराने के लिए बैंको में सुबह से लाइन में लगना पड़ता था लेकिन अब वो सारे काम हम घर बैठे मोबाइल से ही कर सकते हैं। लेकिन क्या आपने कभी ये सोचा है की ये सारी सुविधा हमे मोबाइल से कैसे प्राप्त होती है?JavaScript Kya Hai In Hindi

दोस्तों ये संभव हो पाया है एक उच्च स्तर के प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जावा की वजह से। अगर आप एक कंप्यूटर के स्टूडेंट है या रह चूके हैं तो आपने जावा का नाम यकीनन सुना होगा और अगर आपने नहीं सुना तो हम है ना कुछ सपोर्ट की तरफ से आपको जावा के बारे में पूरी जानकारी देने वाले। इसलिए इस वीडियो को अंत तक जरूर देखें। आगे बढ़ने से पहले दोस्तों आप सभी का बहुत बहुत स्वागत है। JavaScript Kya Hai In Hindi

JavaScript क्या है (Javascript Full Form) JavaScript Kya Hai In Hindi पूरी जानकारी हिंदी में 2023

Java Script क्या है? JavaScript Kya Hai In Hindi

जावा एक ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसे हाई लेवल लैंग्वेज भी कहा जाता है क्योंकि इससे मानव द्वारा आसानी से पढ़ा और लिखा जा सकता है। जावा एक मल्टीप्ल प्लैटफॉर्म और डिस्ट्रीब्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसका उपयोग कॉनसोल ऐप्लिकेशन, जी ऐप्लिकेशन, वेब ऐप्लिकेशन, मोबाइल ऐप्लिकेशन डेवलपमेंट डेवलपमेंट या पीसी या एम्बेडेड सिस्टम को बनाने के लिए किया जाता है।

इसके अलावा इस लैंग्वेज का इस्तेमाल लगभग सभी डिवाइसेस के लिए सॉफ्टवेयर या ऐप डेवलप करने के लिए भी होता है। जावा दूसरे प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की तुलना में सरल, बेहतर, तेज और सुरक्षित प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसका उपयोग वर्तमान समय में केवल कंप्यूटर्स में ही नहीं बल्कि मोबाइल फ़ोन, टेबलेट्स, इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेस जैसे टीवी, वॉशिंग मशीन आदि में भी किया जाता है। आजकल ऑनलाइन बैंकिंग, ऑनलाइन शॉपिंग, ऑनलाइन फॉर्म ये सभी जावा की मदद से ही संभव हुआ है। JavaScript Kya Hai In Hindi

वर्तमान में लगभग सभी मोबाइल कम्पनीज़ जावा का सपोर्ट करते है। गूगल ने जावा को लिनक्स के साथ जोड़ते हुए मोबाइल डिवाइसेज़ के लिए ऐन्ड्रॉइड का नाम एक ओपन सोर्स ऑपरेटिंग सिस्टम डिवेलप किया गया है, जो की आज के समय में काफी मशहूर हो चुका है और लगभग सभी बड़ी कंपनियां ऐंड्रॉयड प्लैटफॉर्म के लिए मोबाइल डिवाइसेस, टैबलेट, स्मार्ट वॉच आदि डिवेलप करते हैं।

ये भी पढ़े:-

जावा लैंग्वेज वेब ऐप्लिकेशन जैसे वेबसाइट या ब्लॉग बनाने की सुविधा भी प्रदान करती है और साथ ही मोबाइल के लिए ऐप्स भी बनाने में मदद करती है। आज के समय में जीतने भी है। वो जावास्क्रिप्ट पर चलते हैं। ऐंड्रॉयड डिवाइसेस के लिए बहुत सारे ऐसे ऐप्लिकेशंस बनाए गए हैं। जो कि जावा में लिखा गया होता है। ये ऐप्लिकेशन ऐन्ड्रॉइड के सॉफ्टवेर डेवलपमेंट किट यानी एसडीके का उपयोग करके बनाए गए हैं।

जावा का इतिहास (History Of Java)

जावा एक कंप्यूटर बेस्ट प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसे जेम्स गोसलिंग और उनके साथी सन माइक्रोसिस्टम ने सन् 1991 में दिक्सित किया था। जेम्स गोसलिंग को जावा का प्रमुख डिवेलपर माना जाता है। इस लैंग्वेज के बनाने के पीछे उनका एक ही सिद्धांत था राइट वन्स रन वेर, जिसका मतलब था लैंग्वेज को एक ही बार लिखा जाएगा। और इसका उपयोग हर जगह किया जाएगा।

जेम्स गोसलिंग और उनकी टीम द्वारा विकसित किए गए इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का नाम उन्होंने रखा था, जिसके बाद सन् 1995 में इसका नाम बदलकर जावा रख दिया गया। जावा के टीम के सदस्यों को ग्रीन टीम भी कहा जाता है। इन्होंने एक लैंग्वेज को डिवेलप करने के लिए प्रोजेक्ट शुरू किया था, जो कि डिजिटल डिवाइस के लिए ऐप्लिकेशन डिवेलप करने में मदद करता है।

मुख्यतः जावा को कन्स्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स डिवाइस जैसे की टी वी सेट अप बॉक्स वीसीआर सॉफ्टवेयर बनाने के लिए किया गया था, लेकिन ये इन्टरनेट प्रोग्रामिंग के लिए बेस्ट प्रोग्रामिंग लैंग्वेज बन गया। जेम्स गोसलिंग ने इस प्रोग्राम का नाम सबसे पहले ग्रीन चॉक रखा था, जिसके बाद इसे बदलकर रखा गया।

ये नाम पहले से ही टेक्नोलॉजी के द्वारा रजिस्टर्ड था, इसलिए इसे फिर से बदल कर जावा रखा गया। जावा का सबसे महत्वपूर्ण और लोकप्रिय फीचर है कि जावा लैंग्वेज प्लैटफॉर्म इन्डिपेन्डेन्ट होता है। इसका मतलब है कि जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज किसी विशेष हार्ड्वेर या ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए नहीं बनाया गया है। इसलिए जावा पर बनाए गए प्रोग्राम किसी भी सिस्टम पर रन किए जा सकते हैं। जावा का ये यूनीक फीचर आज भी जावा को सबसे पॉपुलर लैंग्वेज बनाता है।

Java का Version

जावा का पहला वर्जन जे डी के 1.0 23 जनवरी 1996 में रिलीज किया गया था। उसके बाद कई सारे वर्जंन डेवेलप और रिलीज किए गए। वर्तमान में जावा का लेटेस्ट वर्जन है जावा ऐसी एट जिसे 18 मार्च 2014 में रिलीज किया गया था। ये एक ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड लैंग्वेज है, जो किसी और सी प्लस प्लस लैंग्वेज पर आधारित है। लेकिन जावा को और भी सिंप्लिफाइ और इम्प्रूव किया गया है, जिससे प्रोग्रामिंग फीचर्स के एरर को दूर किया जा सके।

जावा सोर्स कोर्ट की फाइल्स जिनका एक्स्टेन्शन डॉट जावा होता है उनको कंपाइलर की मदद से बिट कोड फॉरमैट में जनरेट किया जाता है और फिर जावा इन्टरप्रेटर उसको एग्जिक्यूट करता है। कंप्लीट जावा कोड सभी कंप्यूटर पर जावा वर्चुअल मशीन यानी जेवीएम की मदद से रन होता है। जेवीएम एक वर्चुअल मशीन है जो कि रनटाइम इन्वाइरनमेंट उपलब्ध कराता है जहाँ पर जावा प्रोग्राम को रन किया जाता है। जीतने भी कंप्यूटर्स जावा प्रोग्राम को रन करते हैं। उन सभी में पहले से ही जेवीएम इन्स्टॉल रहता है। इसलिए जावा का सोर्स कोड सभी प्लैटफॉर्म के कंप्यूटर्स में चलता है। और

जावा कितने प्रकार के होते हैं?

जावा वास्तव में एक बहुत ही बड़ी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है इसलिए सन माइक्रोसिस्टम्स में इसे कई हिस्सों में विभाजित कर दिया है, ताकि जो प्रोग्रामर्स जीस कैटगरी से जुड़े सॉफ्टवेयर डेवलप करना चाहते हैं, उन्हें केवल उसी कैटगरी से संबंधित जावा के बारे में जानने की जरूरत पड़े।

जावा को मूल रूप से तीन हिस्सों में डिवाइड किया गया है। पहला है जावा माइक्रो एडिशन जे टू एम
दूसरा है जावा स्टैन्डर्ड ऐडिशन, जे टू एसी और
तीसरा है जावा एन्टरप्राइज़ ऐडिशन जे टू, डबल और

जावा के फीचर्स (Java Fetures)

जावा एक शुद्ध ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज यानी ओपीएस है अर्थात इसमें प्रोसीजर्स का प्रयोग नहीं किया जाता बल्कि यह एक ऑब्जेक्ट पर आधारित लैंग्वेज है।

जावा ओपीएस के कॉन्सेप्ट को फॉलो करता है। जो सॉफ्टवेर पमेंट और मेंटेनेंस के काम को सरल बनाती है।

जावा प्लैटफॉर्म इन्डिपेन्डेन्ट जावा प्लैटफॉर्म इन्डिपेन्डेन्ट लैंग्वेज है अर्थात ये हर किसी प्लैटफॉर्म में रन हो सकती है। जैसे ऐंड्रॉयड, विंडोज, लिनक्स और मैक आदि।

जावा में लिखे गए प्रोग्राम्स किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम में रन किये जा सकते हैं। जैसे अगर आपने जावा का प्रोग्राम विंडोज फोर्स में लिखा है तो उसे हम लिनक्स ओएस में भी आसानी से रन कर पाएंगे।

जावा का एक और बड़ा फ्यूचर ये है ये एक सुरक्षित लैंग्वेज है। जावा सबसे अधिक सुरक्षित है, क्योंकि जावा प्रोग्राम जावा रनटाइम इन्वाइरनमेंट में रन होता है।

जावा को Client-Client-Side के साथ-साथ Server Side में भी उपयोग में लाया जा सकता है।

जावा का निष्पादन ज्यादा तेजी से होता है क्योंकि यह Client Side Execute करती है।

Javascript में इमेज, टेक्स्ट, लिंक, टेबल आदि को आसानी से जोड़ा जा सकता है।

दूसरी भाषाओं के विरुद्ध जावास्क्रिप्ट में Date & Time को बदलने के लिए Option होता है।

Java और JavaScript में क्या अंतर है।

बहुत से लोगो का मानना है की जावा और जावा स्क्रिप्ट एक ही भाषा है लेकिन में आपको बता दू ऐसा बिल्कुल भी नहीं है  जावा और जावा स्क्रिप्ट यह दो अलग – अलग भाषा है नीचे हमने इन दोनो भाषाओं के बीच के अंतर को साफ – साफ बताया है –

Java लैंग्वेज एक बहुत ज्यादा Strong Typing Language है, जबकि JavaScript को कमजोर टाइपिंग भाषा माना जाता है।

Java एक Real Programming Language है जो अलग अलग कार्यों के लिए उपयोग में लाई जाती है, जबकि JavaScript एक Scripting Programming Language है और इसे HTML Page में उपयोग में लाई जाती है।

Java High Level Programming की Language है इसे एक बार लिखने के बाद अलग – अलग किसी भी Browser में ओपन किया जा सकता है, जबकि JavaScript एक Client Side Programming Language है इसको सिर्फ सीधे ब्राउज़र में चलाया जा सकता है।

Java को सीखने के लिए आपको बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी, लेकिन JavaScript को आप आसानी से सिख सकते है।

Java Script को कैसे सीख सकते हैं

जावास्क्रिप्ट को आप कई तरीकों से सिख सकते है जावा स्क्रिप को आप दो तरह से सिख सकते है आप Offline और Online तरीके से JavaScript को सिख सकते है।

आज हम आपको javascript भाषा को कैसे सिख सकते है इसके तरीके बताने वाले है तो आइए जानते है जावास्क्रिप्ट को कैसे सिख सकते है।

Books

Coaching Institute

Online Website

Online Course

YouTube Videos

आप हमारे द्वारा बताए गए किसी भी तरीके को अपनाकर आसानी से जावास्क्रिप्ट भाषा को सिख सकते है और एक अच्छे वेब डेवलपर बन सकते है। JavaScript Kya Hai In Hindi

1 thought on “JavaScript क्या है (Javascript Full Form) JavaScript Kya Hai In Hindi पूरी जानकारी हिंदी में 2023”

Leave a Comment

Skip to content