Google Virtual Visiting Card Kya Hai | Google People Card कैसे बनाएं – What Is Google Virtual Visiting Card Hindi

Google Virtual Visiting Card Kya Hai| Google People Card कैसे बनाएं – What Is Google Virtual Visiting Card Hindi

गूगल वर्चुअल विजिटिंग कार्ड क्या हैं और कैसे बनाएं Google Virtual Visiting Card Kya Hai, गूगल पीपल कार्ड, Google Visiting Card, Google Virtual Card

जब कोई आपसे किसी काम या बिजनेस के बारे में पहली बार मिलता है तो वो अपनी पर्सनल डिटेल को बताने के लिए बिजनेस विजिटिंग कार्ड को देता है. उस विजिटिंग कार्ड में उस इन्सान का पूरा नाम, कंपनी के बारे मे जानकारी जैसे कंपनी का नाम, फ़ोन नंबर, वेबसाइट, ईमेल आईडी, कंपनी का पता आदि जानकारी उस कार्ड पर होती है. इस कार्ड को लोग आने पर्स में रखते है. क्योकि फिर से कही दिखाने के लिए इसी कार्ड की जरुरत पड़ती है.

लेकिन विज़िटिंग कार्ड वाला तरीका आज के समय मे बहुत पुराना हो गया है, क्यूंकि आज के समय मे ज्यादातर काम ऑनलाइन हो गया है. और लोग ऑनलाइन ही  एक दुसरे के साथ मीटिंग कर लेते वही अपनी सभी पर्सनल जानकारी भी साझा कर लेते है. तो ऐसे में विजिटिंग कार्ड आमने सामने एक दुसरे के साथ साझा करना मुमकिन जैसा ही हो गया है. ऐसे में दुनिया के सबसे बड़े Google Search Engine के द्वारा लोगों को नया ऑनलाइन यूजर अनुभव प्रदान करने के लिए एक नया वर्चुअल विजिटिंग कार्ड को लांच किया गया है|

इस कार्ड को ‘पीपल कार्ड’ भी कहा गया है. इस वर्चुअल विजिटिंग कार्ड को लोग आसानी से ऑनलाइन एक दूसरे के साथ शेयर कर सकते है इस माध्यम से आप चाहे तो आपकी सभी डिटेल ऑनलाइन सर्च करने पर भी आ सकती है. और अब लोग घर बैठे ही ऑनलाइन गूगल में अपना विजिटिंग कार्ड आसानी से बना सकते है. आइये हम आपको विस्तार से बताते है ये विजिटिंग कार्ड (पीपल कार्ड) क्या है, और इसे आप गूगल पर कैसे बना सकते है, इसके बनाने के कितने फायदे है. इस लेख को ध्यान से पढ़े और पीपल कार्ड को समझिए।

Google Virtual Visiting Card Kya Hai | Google People Card कैसे बनाएं - What Is Google Virtual Visiting Card Hindi

गूगल पीपल कार्ड क्या है? (What is Google People Card)

गूगल ने इस कार्ड को इसलिए लांच किया है ताकि लोग गूगल सर्च में जाकर अपना खुद का विजिटिंग कार्ड बना सकें. यह एक ऑनलाइन पीपल कार्ड है इसके माध्यम से हम अपनी सभी पर्सनल जानकारी शेयर करने के लिए पीपल कार्ड का इस्तेमाल करते है. और गूगल सर्च के जरिये आप इसमें सोशल मीडिया प्रोफाइल या अपनी वेबसाइट को उभार (Highlight) कर सकते है.

गूगल पीपल कार्ड का क्या उद्देश्य है (What purpose of Google People Card)

इस दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन गूगल है. गूगल ने इस पीपल कार्ड का नया फीचर लांच करने का उद्देश्य यह है कि ताकि गूगल के करोड़ों उपयोगकर्ताओं को एक नया एक्सपीरियंस मिल सके. इस पीपल कार्ड का मुख्य उद्देश्य यह है कि स्टार्टअप, व्यवसायी और फ्रीलांसर आदि लोगों को ऐसा मंच मिल सके जहाँ वे अपनी जरुरी डिटेल को एक जगह से लाखों करोड़ों लोगों तक एक साथ पहुँचाया जा सकें।

गूगल पीपल कार्ड के प्रॉफिट (Google People Card Features, benefits) –

सबका सपना होता है जैसे बड़े बड़े लोगों का नाम गूगल में सर्च करने पर आ जाता है क्योंकि बड़े बड़े लोगो का नाम तो एक बार सर्च करने पर ही सबसे ऊपर आ जाता क्योकि उनकी Popularity बहुत ज्यादा होती है और उन्हें बार बार गूगल में सर्च किया जाता है, इसकी वजह से गूगल इनका नाम सबसे ऊपर लाता है, लेकिन साधारण इंसान का यह सपना बनकर ही रह जाता है.

लेकिन अब ज्यादा सोचने की जरूरत नही क्योकि गूगल अब आपके इस सपने को पूरा करने में आपकी सहायता करेगा. गूगल के पीपल कार्ड लांच होने से आपके नाम को कोई भी गूगल में सर्च करके आपकी डिटेल ले सकता है और आप भी किसी की डिटेल ले सकते है अगर जिसकी डिटेल आप सर्च करना चाहते है उसका पीपल कार्ड बना हुआ है तो आप आसानी से उस इंसान की जानकारी हासिल कर सकते है।

सबसे जरूरी बात पीपल कार्ड को पूरी तरह से सुरक्षित बनाया जा रहा है, ताकि व्यक्ति अपनी जो डिटेल साझा करना चाहेगा सिर्फ वही लोगों के साथ साझा हो पाएगी. आपकी बिना इजाज़त के कोई भी डिटेल किसी के साथ साझा नहीं हो सकती है.

इस पीपल कार्ड के जरिये आप अपने सोशल मीडिया लिंक, वेबसाइट, अपना पता, अपना फोन नंबर आदि आसानी से साझा कर सकते है

भारत में बहुत से लोंगो के नाम एक जैसे है, ऐसे में यह गूगल पीपल कार्ड बहुत ज्यादा काम आने वाली चीज है. इस कार्ड से हम घर बैठे ऑनलाइन आसानी से व्यक्ति की विभिन्न जानकारी को ले सकते है.

भारत की जनसँख्या बहुत ज्यादा है, और यहाँ एक नाम और सरनेम के बहुत से लोग उपस्थित है, इन्ही सभी  बातों को देखते हुए गूगल ने इस वर्चुअल पीपल कार्ड को बनाया है और इसमें बहुत से फीचरों को शामिल किया गया है. और यहाँ भारत में उपस्थित कोई भी व्यक्ति एक से अधिक पीपल कार्ड बना सकता है, क्योकि यह विकल्प Secure और Transparency को देखते हुए इस फीचर को बनाया गया है.

जब आप इस वर्चुअल कार्ड को बनवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर देंगे, तब गूगल आवेदनकर्ता की डिटेल को पूरी तरह से जाँच करेगा और जांच में आपकी डिटेल सही पाए जाने पर ही आपका वर्चुअल पीपल कार्ड गूगल सर्च पर दिखाई देगा।

अगर आप कभी भी इस वर्चुअल कार्ड को गूगल से पूरी तरह से मिटाना (Delete) चाहेंगे तो, गूगल ने यह ऑप्शन भी दिया गया है. वर्चुअल कार्ड को बनाने के बाद कभी भी आप इसे पूर्ण रूप से डिलीट कर सकते है।

गूगल के द्वारा यह साफ किया गया है कि यह Virtual People Card भारत में अभी सिर्फ अंग्रेजी भाषा मे लांच किया गया है. आने वाले वक़्त में गूगल इस कार्ड को अलग-अलग भाषाओं में भी लांच कर सकता है.

Leave a Comment

Skip to content