26 January Poem in Hindi | गणतंत्र दिवस पर कविता निबंध 2023

26 January Poem in Hindi | गणतंत्र दिवस पर कविता निबंध 2023

26 जनवरी Poem in Hindi : आप सभी को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं। यहाँ पर हम Republic Day 2022 पर देशभक्ति पर हर तरह की कविता लेकर आए हैं। जैसे बच्चों के लिए, जिन्हें आप अपने स्कूल में 26 जनवरी के दिन प्रस्तुत कर सकते हैं। यह देश है वीर जवानों का गणतंत्र दिवस की ऐसी कविता सबके अंदर देश के प्रति प्यार जगाती है जय हिंद-जय भारत, गणतंत्र दिवस पर कविता हिंदी में ।। 26 January Poem in Hindi

26 January Poem in Hindi | गणतंत्र दिवस पर कविता निबंध 2023

26 January Poem in Hindi

विजय विशव तिरंगा प्यारा, झंड़ा ऊँचा रहे हमारा

 सदा शक्ति बरसाने वाला प्रेम सुधा सरसाने वाला

 जय हिंद-जय भारत

◆  गणतंत्र दिवस पर कविता हिंदी में

छोड़ो कल की बाते,बात कल की पुरानी
नए दौर में लिखेंगे, आओ मिलकर नई कहानी
हम है हिंदुस्तानी – हम है हिन्दुस्तानी
आज पुरानी जंजीरों को तोड़ चुके है
चाँद के दर पर जा पहुँचा है जमाना
नए जगत से हम भी नाता जोड़ चुके है
नया खून है नई उम्मीदें, अब है नई जवानी
हम है हिंदुस्तानी – हम है हिंदस्तानी
कितने ताजमहल है, हम को और बनाने
कितनी है अजन्ता हमको और सजाने
अभी पलटना है रुख दरियाओं का
कितने पर्वत राहो से है आज हटाने
हम है हिंदस्तानी – हम है हिंदुस्तानी
आओ मेहनत को अपना ईमान बनाओ
अपने हाथों से अपना भगवान बनाए
राम की धरती को गौतम की भूमि बनाएं
अपनो से भी प्यार हिन्दुस्तान बनाए
हम है हिंदस्तानी – हम है हिंदुस्तानी

देशभक्ति कविता 2024

फूलों के गुलदस्ते से काँटों को हटा दो

तोड़ के विदेशी सभी जाल, अपना बना लो

कर लो देश को अपना, रह ना जाए कोई सुंदर सपना

घर मे लगाए जो आग, दीपक उसका बुझा दो

फूलों के गुलदस्ते से काँटों को हटा दो ।

हम भारत के वासी क्यो हो इस दुनिया मे शर्मिंदा

देश के कारण जान भी देनी पड़े तो भी देंगे

जय जय हिंद के नारों से धरती को हिला देंगे

फूलों के गुलदस्ते से काँटों को हटा दो

देखो अपने साथ कैसे कैसे बलवानों की है शक्ति

भगत सिंह की हिम्मत और बापू की भक्ति

देश का झंडा दुनिया मे ऊँचा करके दिखा दो

फूलों के गुलदस्ते से काँटों को हटा दो ।।

जय हिंद-जय भारत

know more :

●  देशभक्ति शायरी हिंदी 2022

●  26 जनवरी पर शायरी गीत

 

 

◆  हम होंगे कामयाब (बच्चों के लिए)

हम होंगे कामयाब, हम होंगे कामयाब
एक दिन …
ओ हो हो मन मे है विश्वास, पूरा है विश्वास
हम होंगे कामयाब एक दिन
नही डर किसी का, आज के दिन
ओ हो हो मन मे है विश्वास, पूरा है विश्वास
नही डर किसी का आज के दिन
होगी शांति चारों और, एक दिन
ओ हो हो मन मे है विश्वास पूरा हैं विश्वास
होगी शांति चारों और एक दिन
हम चलेंगे साथ-साथ एक लेके हाथो में हाथ
हम चलेंगे साथ-साथ एक दिन
ओ हो हो मन मे है विश्वास, पूरा है विश्वास
हम चलेंगें साथ-साथ एक दिन
हम होंगे कामयाब, हम होंगे कामयाब
जय हिंद-जय भारत
◆  हम सभी से है भारत की रौनक
हम सभी से है भारत की रौनक
आजादी है दिन-रात का सबक
खेत हमारा,खलियान हमारा
हिंदुस्तान सारा हमारा है
मंदिर मस्जिद और गंगा सागर
जंगल बस्ती और वीराना
हर महफ़िल और हर काषणा
हर दर पर ऐलान हमारा है
ये हिंदुस्तान हमारा है…
जंगल और गुलजार हमारे
दरिया और झीलें हमारे
कुँए  और बाज़ार हमारे
हर घर हर मैदान हमारा है
ये हिंदुस्तान हमारा है ।।
जय हिंद-जय भारत
◆  Republic Short Poem In Hindi
आजादी के मतवालों को चीन ने फिर से ललकारा है
शांति के आंगन में फेंका जंग का एक अंगारा है
चलो जवानों चलो, उठो सिपाही उठो
अपनी सरहद बुला रही बढो सपूतो बढो
गूंज रही है सदा इस गुलशन की हरियाली से
चीनी सिपाहियो से सामना होगा खून की लाली से
सोते शेर जगाए है, इन गधारो ने
चलो जवानों चलो, उठो सिपाहियो उठो

 

Leave a Comment

Skip to content